25 जनवरी का इतिहास और महत्व (History and Importance of 25th January)

25 जनवरी का इतिहास और महत्व (History and Importance  of 25th January)

25 जनवरी 1554 – ब्राजील में साओ पाउलो शहर की स्थापना हुई।

25 जनवरी 1565 – तेल्लीकोटा की लड़ाई में विजयनगर साम्राज्य नष्ट हुआ।

25 जनवरी 1579 – डच गणराज्य की स्थापना हुई।

25 जनवरी 1755 – मॉस्को विश्वविद्यालय की स्थापना की गयी।

25 जनवरी 1824 – प्रसिद्ध बंगाली कवि माइकल मधुसूदन दत्त का जन्म हुआ। 

25 जनवरी 1831 – पौलैंड की संसद ने स्वतंत्रता की घोषणा की।

25 जनवरी 1839 – चिली में भूकम्प से 10,000 लोगों की मौत हुई।

25 जनवरी 1880 – प्रसिद्ध समाज सुधारक केशव चंद्र सेन ने भारतीय ब्रह्म समाज की शुरूआत की।

25 जनवरी 1881 – थॉमस एडीसन और एलेक्जेंडर ग्राहम बेल ने ओरिएंटल टेलीफोन कंपनी की स्थापना की। 

25 जनवरी 1971 – हिमाचल प्रदेश भारत का 18वां राज्य बना। इस दिन हिमाचल प्रदेश को पूर्ण राज्य घोषित किया गया।

25 जनवरी 1975 – शेख मुजीबुर्रहमान बांग्लादेशत के राष्ट्रपति बने।

25 जनवरी 1980 – समाजसेवीका मदर टेरेसा को भारत रत्न से सम्मानित गया।

25 जनवरी 1983 – आचार्य विनोबा भावे को मरणोपरांत सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया।

25 जनवरी 1994 – तुर्की का प्रथम दूरसंचार उपग्रह ‘तुर्कसैट प्रथम’ अटलांटिक महासागर में गिरा।

25 जनवरी 2004 – अंतरिक्ष यान ऑपर्च्युनिटी मंग्रल ग्रह पर सफलतापूर्वक उतरा।

25 जनवरी 2009- केन्द्र सरकार ने पद्मश्री व पद्मभूषण पुरस्कारों की घोषणा की।

25 जनवरी 2015 – मिस कोलम्बिया पोलिना वेगा वर्ष 2014 की मिस यूनिवर्स बनीं।

जय हिंद

Leave a Comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s